Nurturing Young Minds

Nurturing Young Minds
At HIS

Friday, July 2, 2010

हिन्दुस्तान हमारा (Our India)




हिंदुस्तान हमारा 

अमल हिमालय के आँगन में,
गंगा के तट न्यारी,
मनुज सभ्यता की गूँजी
पहली सुंदर किलकारी |
छंदों और ऋचाओं से
प्रतिध्वनित हुआ जग सारा,
संस्कृति रचता बढा वेग से
हिंदुस्तान हमारा |

मुड़ कर देखो दूर वहाँ
उस अद्भुत स्वर्णिम पल में,
प्रतिबिम्ब इतिहास का है उस
निर्मल गंगा जल में |
निर्मल थी वह मगर सफ़र में
हुई मलिन जलधारा,
सदियों तक परतंत्र रहा यह
हिंदुस्तान हमारा |

लाल किले पर सन सैंतालिस
में जब उठा तिरंगा,
आशाओं से भरा देश यह
द्राविड़-उत्कल-बंगा |
आशा टूटी, गिरी आस्था,
जन-जन ने स्वीकारा,
अपनों से ही छला गया यह
हिंदुस्तान हमारा |

सौ करोड़ हम हिन्दुस्तानी,
दो सौ करोड़ भुजाएं,
इन्हीं भुजाओं से मिल कर
भावी इतिहास बनायें |
नदी, कुँए, तालाब और
सड़कों के जाल बिछाएँ,
नहीं प्रतीक्षा करें किसी की,
पहला कदम उठायें |
हिन्दू-मुस्लिम-सिख-ईसाई,
हम सब को स्वीकारें,
प्यार-बंधुता से मिल-जुल कर
भारतवर्ष सँवारें |
सोने की चिड़िया फिर चहके,
बहे दूध की धारा,
हरियाली से हरा-भरा हो
हिंदुस्तान हमारा |

केरल से कंचनजंघा तक,
जम्मू से गोहाटी,
एक राष्ट्र है, एक कौम है,
सुख-दुख के हम साथी |
गौरवशाली था अतीत ज्यों,
सुभग भविष्य बनाएँ,
आओ मिल-जुल सभी साथिओं
देश-गान यह गाएँ |

भारत के मजदूर-किसानों,
बौद्ध, जैन, सन्यासी,
हिन्दू, मुस्लिम, सिख, ईसाई,
दलित और वनवासी |
सबने मिल कर देश गढा है,
सबने इसे सँवारा,
आओ मिल कर साथ पुकारें,
हिंदुस्तान हमारा !
हिंदुस्तान हमारा !
हिंदुस्तान हमारा !





2 comments:

  1. wow nice blog hope u would like to visit mine also
    http://numismatology-abhas.blogspot.com/

    ReplyDelete
  2. The way your passion is collecting rare coins, mine is collecting rare people especially young people to lead their village and country. You blog is a rare type!

    How did a coin-collector met a leader-collector?

    ReplyDelete